लालू यादव की तबियत को लेकर AIIMS से आई ऐसी खबर,साँस लेने में अब…

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की इतनी ज्यादा तबियत खराब हो गयी थी की उन्हें रांची रिम्स से दिल्ली के एम्स में शिफ्ट कर दिया गया। अब लालू यादव की तबियत में धीरे-धीरे सुधार हो रहा है। लालू यादव की तबीयत में सुधार बहुत कम हुआ है क्योंकि कई बीमारियों के साथ-साथ लालू यादव पल्मोनरी एडिमा से ग्रसित हैं। पल्मोनरी एडिमा की वजह से लालू यादव के फेफड़ों में अतिरिक्त द्रव्य जमा हो गया है। यह बीमारी निमोनिया के संक्रमण के कारण होती है।

दरअसल लालू यादव की सभी टेस्ट रिपोर्ट मंगलवार को सामने आ गई। हालाँकि रिम्स से एम्स में शिफ्ट किए जाने के बाद फिर से उनका मेडिकल टेस्ट कराया गया था। लालू यादव को फिलहाल कार्डिक इंटेंसिव केयर यूनिट में रखा गया है। एम्स के प्रसिद्ध कार्डियोलॉजिस्ट डॉक्टर राकेश यादव उनका इलाज कर रहे हैं। साथ ही साथ अन्य विभागों के विशेषज्ञ डॉक्टरों को भी मेडिकल टीम में रखा गया है। डॉ राकेश यादव इसके पहले भी लालू प्रसाद का इलाज कर चुके हैं। सीआईसीयू वार्ड में खासतौर पर उन मरीजों को रखा जाता है जो दिल के मरीज हैं और एंजाइना समेत अन्य तरह की परेशानियों का सामना कर रहे हैं।

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव से बाहरी के लोगों से मिलने पर रोक लगाई गयी हैं हालाँकि डॉक्टर्स का कहना है कि कोरोना संक्रमण के कारण लालू प्रासद को एहतियाती तौर पर लोगों से मिलना जुलना रोक दिया है। वहीं डॉक्टर राकेश यादव के मुताबिक लालू यादव कुछ देर तक बातचीत करने और बैठने में कंफर्टेबल महसूस कर रहे हैं और अब ना तो वो ऑक्सीजन के सपोर्ट पर हैं और ना ही वेंटिलेटर की जरूरत है उन्हें।

बता दे रिम्स में जब लालू यादव की तबियत ख़राब थी तब उन्हें नेबुलाइज करना पड़ा था क्योंकि सांस लेने में लगातार उन्हें परेशानी का सामना करना पड़ रहा था। लेकिन एम्स में पिछले 3 दिनों के अंदर उन्हें सांस लेने की तकलीफ से राहत मिली है और अब डॉक्टर धीरे-धीरे इसे ठीक करने में जुटे हुए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *