बिहार में चक्रवाती तूफान ‘यास’ का मिलाजुला असर

चक्रवाती तूफान यास का बिहार, झारखंड और पश्चिम बंगाल में असर साफ दिख रहा है। इन राज्यों में गुरुवार शाम से लेकर रात भर तेज हवाओं के साथ भारी बारिश हुई भी जारी है। बिहार में चक्रवात ‘यास’ के प्रभाव के कारण गुरुवार को उड़ानें और रेल यातायात के प्रभावित हुआ।चक्रवात की वजह से पटना शहर में भारी बारिश के कारण शाम को यहां के हवाई अड्डे पर उड़ानों का परिचालन बंद कर दिया गया। वहीं, झारखंड की राजधानी रांची में मई महीने में पिछले 24 घंटे में बारिश का नया रिकॉर्ड बन गया है। पश्चिम बंगाल में चक्रवात के दौरान 145 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तूफानी हवाएं चलने से कई मकान क्षतिग्रस्त हो गये, खेतों में पानी भर गया है।

पीएम मोदी ‘यास’ पर समीक्षा बैठक में होंगे शामिल

पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ कलाईकुंडा वायु सेना स्टेशन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का स्वागत करेंगे। पश्चिम बंगाल के राज्यपाल धनखड़ ने बताया कि प्रधानमंत्री राज्य में चक्रवात यास प्रभावित क्षेत्रों का दौरा करेंगे। राज्यपाल राज्य सरकार के साथ प्रधानमंत्री की समीक्षा बैठक में हिस्सा लेंगे।

ममता बनर्जी करेंगी पीएम से मुलाकात

पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी कलाईकुंडा वायु सेना स्टेशन में पीएम मोदी से मुलाकात करेंगी। इस दौरान दोनों नेताओं के बीच चक्रवात यास से हुए नुकसान से संबंधित मुद्दों पर चर्चा करने की संभावना है। दोनों राज्य में चक्रवात प्रभावित क्षेत्रों का अलग-अलग हवाई सर्वेक्षण भी करेंगे

बिहार में अगले दो दिन तेज हवाओं के साथ बारिश

मौसम विज्ञान केंद्र, पटना के निदेशक आनंद शंकर कहा कि कम दबाव के मौसमी प्रभाव के कारण राज्य में अगले 48 घंटे के दौरान हल्की से मध्यम स्तर की बारिश होने की संभावना है। जबकि, एक दो स्थानों पर भारी बारिश का पूर्वानुमान है। इस दौरान हवा की अधिकिम गति 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटा की होगी। इसके साथ ही राज्य के दक्षिण तथा पूर्वी हिस्सों में अगले 24 घंटे और राज्य के मध्य हिस्से में कुछ जगहों पर आकाशीय बिजली गिरने की आशंका भी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *