युवती आई परिक्षा देने, हो गई शादी जानिए पूरा मामला…

यूँ तो आपने बाली उमर के प्रेम के कई किस्से सुने होंगे, कहा जाता है कि इस उम्र के प्यार में पड़े प्रेमी जोड़े एक दूसरे के लिए कुछ भी कर गुजरते हैं. ऐसे मामले तो रोजाना आते हैं मगर बिहार के कटिहार में जो कुछ भी हुआ है उसे सुनकर आप चौंक जाएंगे। कच्ची उम्र के प्रेम की ये अनोखी दास्ताँ हैं ही कुछ ऐसी कि लोग सुनकर कहते हैं कि क्या प्यार इतना अँधा होता है ?

मामला है कटिहार जिले का जहाँ मनिहारी प्रखंड क्षेत्र के रहने वाली प्रेमिका को बरारी क्षेत्र के रहने वाले प्रेमी से प्यार हो गया। दोनों को रव्गं नंबर के कॉल से बात करने के दौरान ही प्यार हुआ। बता दें,दोनों एक दूसरे के साथ पिछले 5 साल से हैं। दोनों का प्यार इस कदर बढ़ गया कि दोनों आपस में मिलने जुलने लगे। हद तो तब हो गई जब प्रेमिका दसवीं का परीक्षा देने मनिहारी गई थी और प्रेमिका से मिलने प्रेमी भी वहां पहुंच गया। रात में दोनों को ग्रामीणों ने बन्द कमरे में पकड़ लिया और मामला बढ़ने लगा तभी स्थानीय ग्रामीणों की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंचकर दोनों प्रेमी युगल को उग्र ग्रामीणों के भीड़ से निकालकर मनिहारी थाना लेकर आ गई ।

दोनों प्रेमी युगल के परिजनों को बुलाया गया और परिजनों की सहमति से थाना के समीप वाले मंदिर में विवाह करा दिया गया। विवाह होने के बाद दोनों प्रेमी ने युगल थाना पहुंचकर उन्होनें आशीर्वाद लिया उसके बाद दोनों वहां से निकल गए। मामला अब भी नहीं सुलझा है और विवाह के बाद प्रेमी युगल के परिजन अब उन्हें अपने घर में रखने से इंकार कर रहे हैं। लिहाजा प्रेमी युगल इधर उधर भटक रहे हैं।
इस प्रेम विवाह के चक्कर में प्रेमिका का दसवीं का परीक्षा भी छूट गया और पूरा साल बर्बाद हो गया है लेकिन इसका उसे अफसोस नहीं है और उसका कहना है कि प्यार सफल हुआ परीक्षा तो कभी भी दे देंगे। वही प्रेमी की माने तो उनके परिजन घर से विवाह करने को तैयार थे लेकिन प्रेमिका के माता-पिता तैयार नहीं हुए और मंदिर में शादी करा दिया गया लेकिन अब दोनों के परिजन रखने को तैयार नहीं है अब हम जाएं तो कहां जाएं।

वहीं उग्र ग्रामीणों की भीड़ से प्रेमी युगल को बचाने वाले पुलिसकर्मियों को लेकर मनिहारी अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी एम एस एच फाकरी ने बताया कि दोनों प्रेमी युगल को नवाबगंज इलाके में ग्रामीणों ने पकड़ा था। जिसके बाद मनिहारी पुलिस वहां पहुंचकर प्रेमी जोड़े को ग्रामीणों से छुड़ाकर थाना ले आई और उनके परिजनों की सहमति से दोनों का विवाह करा दिया गया दोनों प्रेमी जोड़े बालिग है।
दुल्हन ने बताया कि दोनों ने रॉन्ग नम्बर से बात करना शरु किया था। वो कॉल जाने नहीं कब जान पहचान में बदल गई।. दुल्हन ने आगे बताया कि लड़का मनहारी आया और वहीं दोनों ने एक दूसरे को देखा..अब दोनों के घर वाले नाराज है। पुलिस की मदद पर हुई शादी..दोनो के परिवार यहां थाना आये थे पर अब रखने को तैयार नही है। उसने कहा एग्जाम देने आए थे मैट्रिक का लेकिन वो तो छूट गया पर प्रेम सफल हुआ।

दूल्हा नीतीश ने बताया कि मिस कॉल के दौरान मुहब्बत हुई। डेढ़ साल से मिलते जुलते रहे हम लोग..आज शादी हो गयी..मैट्रिक की परीक्षा इनकी छूट गयी..पर प्रेम सफल हो गया।
परिवार ने स्वीकार नही किया है हम दोनों को वर्ष 2016 की हमारी प्यार हुआ,पुलिस ने दोनों की मदद की।

एमएसएच फाखरी ने बताया कि
हमारे स्थानीय थाना क्षेत्र के नवाबगंज के आसपास से सूचना मिली थी कि प्रेमीयुगल पकड़े गए है..जिनको हमारे थानाध्यक्ष बचाकर लाएं.. अभी जो करेंट जानकारी है कि दोनों परिवार की सहमति से दोनो ने शादी कर ली..दोनो बालिग है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *