चिराग अस्वस्थ, कोविड की करवाई जांच जल्द लौटेंगे बिहार…

बिहार विधानसभा चुनाव के बाद से चिराग पासवान लगातार बिहार से बाहर थे लेकिन बीते दिनों अचानक वो बिहार लौटे जब उनकी पार्टी में टूट की बात सामने आई। चिराग पासवान बिहार लौटकर बिहार में बढ़ते क्राइम को लेकर सरकार को घेरने का प्रयास भी किया था और वह रुपेश के परिजनों से मिलने के लिए उनके गांव भी पहुंचे थे। वहीं रुपेश के परिजनों से मिलने के बाद एक बार फिर से चिराग पासवान बिहार से बाहर हैं और लोग पूछ रहे हैं कि आखिर चिराग कहां चले गए ?

लेकिन अब जो खबर आई है वह बेहद खास खबर है दरअसल मिली जानकारी के अनुसार चिराग की तबीयत खराब हो गई है और उन्होंने कोविड-19 चेकअप भी करवाया है उन्हें रिपोर्ट का इंतजार है। तबीयत ठीक होने का इंतजार कर रहे हैं चिराग पासवान बहुत जल्द एक बार फिर से बिहार लौट रहे हैं और लौट कर वह बिहार की राजनीति में एक बड़ा कदम उठा सकते हैं। मिली जानकारी के अनुसार बहुत जल्द चिराग पासवान पटना आएंगे और अपने कार्यकर्ताओं और नेताओं के साथ एक अहम बैठक करेंगे। इस बैठक में आगे की रणनीति को लेकर चर्चाएं होंगी।

पिछले दिनों बिहार दौरे पर आए चिराग पासवान की तबीयत अचानक खराब हो गई जिसके बाद वह वापस दिल्ली चले गए। लेकिन अब खबर है कि बहुत जल्द स्वस्थ होकर अब चिराग पासवान एक बार फिर से बिहार की राजनीति में सक्रिय होंगे। वहीं लोजपा की बात हम करें तो लोजपा के कार्यकर्ता लगातार यह बात कर रहे हैं कि चिराग पासवान उनके बीच रहे, बिहार की राजनीति में सक्रिय रहे। तो अब चिराग ने यह ऐलान कर दिया है कि वह कार्यकर्ताओं के बीच बहुत जल्द आ रहे हैं और वह बहुत जल्द कोई बड़ा और ठोस कदम उठाएंगे।

आपको पता है कि बिहार विधानसभा चुनाव के दौरान लोक जनशक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान बिहार में लगातार नीतीश कुमार के खिलाफ कैंपेनिंग कर रहे थे। ऐसे में बिहार में जब रिजल्ट आया तो कहीं ना कहीं लोजपा ने जेडीयू को बहुत प्रभावित किया हालांकि लोजपा के सिर्फ एक विधायक ही जीत हासिल कर पाए। हालांकि चुनाव से पहले नीतीश कुमार और चिराग पासवान में जो खटास चल रही थी वह इन दिनों कुछ कम दिख रही है। अब देखना बहुत दिलचस्प होगा कि आगे चिराग पासवान एनडीए में क्या कुछ करते हैं। क्योंकि फिलहाल बिहार में वह एनडीए का हिस्सा नहीं है हाल ही में उनके पिता रामविलास पासवान को मरणोपरांत भारत सरकार ने पद्म भूषण से सम्मानित किया है। तो इसको लेकर चिराग पासवान काफी खुश है और तमाम जेडीयू के नेताओं ने भी बधाई दी है तो ऐसा लग रहा है कि आने वाले वक्त में जेडीयू और लोजपा में खटास कुछ और कम होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *