जनिए उन चार टेस्ट कप्तानों के बारे में जिन्होंने बदली भारत की ‘तस्वीर’

भारतीय क्रिकेट टीम 18 से 22 जून तक साउथैम्पटन में न्यूजीलैंड के खिलाफ वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल मुकाबला खेलेगी। भारत के पास 21वीं सदी में 100वीं टेस्ट जीत दर्ज कर चैंपियन बनने का मौका होगा। टीम इंडिया ने 21वीं सदी में (1 जनवरी, 2001 से अब तक) 214 टेस्ट मैच खेले हैं और 99 मैचों में जीत हासिल की है। 57 में हार मिली है और 36 मुकाबले ड्रॉ रहे हैं।

चार कप्तानों ने बदली भारत की तस्वीर- इस सदी में टेस्ट क्रिकेट में टीम इंडिया के काया पलट के पीछे चार कप्तानों की बड़ी भूमिका रही है। इनमें सौरव गांगुली, राहुल द्रविड़, महेंद्र सिंह धोनी और विराट कोहली शामिल हैं। इनके अलावा अनिल कुंबले, वीरेंद्र सहवाग और अजिंक्य रहाणे ने भी इस सदी में टीम की कमान संभाली है। साल 2001 से अब तक भारत ने गांगुली की कप्तानी में 19, धोनी की कप्तानी में 27 और विराट की कप्तानी में 36 टेस्ट मैचों में जीत हासिल की है। द्रविड़ ने 8, कुंबले ने 3, रहाणे ने 4 और सहवाग ने 2 मुकाबलों में टीम को जीत दिलाई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *