बंगाल में बीजेपी सरकार बनते ही करेगी टोलाबाजी का अंत…

पश्चिम बंगाल में जैसे-जैसे चुनाव की गड़ियां नजदीक आ रही हैं, चुनावी सरगर्मी तेज हो रही है। सभी पार्टी हर वो जोड़ को आजमां रहे हैं, ताकि बंगाल में उनकी ही सरकार बने। आपको बताए, पिछले 10 सालों से बंगाल की मुखिया ममता बनर्जी हैं। दरअसल, इस बार बगांल विधानसभा चुनाव में बीजेपी कथित सत्ता को कड़ी टक्कर देने जा रही है। बता दें, एक-एक करके सभी नेता बंगाल दौरे पर जा रहे हैं और वहां, चुनावी सभा को संबोधित कर रहे हैं। इसी कड़ी में बीते कुछ दिन पहले देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी बंगाल दौरे पर गए थे और वहाँ, चुनावी सभा किया था। बता दें, बीजेपी के नेता बंगाल चुनाव के लिए जोर-शोर से तैयारी में जुटे हैं।

आपको बता दें,आज रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बंगाल के दासपुर में चुनावी रैली किया। उस दौरान उन्होंने वोट तो मांगा ही पर इसे के साथ ही साथ जमकर ममता बनर्जी और पूरे टीएमसी पर हमलावर नजर आए। दरअसल, रक्षा मंत्री ने कहा कि अगर पश्चिम बंगाल में बीजेपी की सरकार आती है तो टोलाबाजी और कटमनी को दूर करेंगे। उन्होंने कहा, ‘पश्चिम बंगाल में पांच सालों के लिए BJP की सरकार बनाकर देखिए, किसी मां के लाल की हिम्मत नहीं है कि वो टोलाबाजी कर सके और कटमनी ले सके।’ राज्य में भ्रष्टाचार का मुद्दा उठाते हुए सिंह ने कहा, ‘राज्य में जनता के लिए जो पैसा आता है उसका 15 से 25 प्रतिशत भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ जाता है। ममता बनर्जी से पूछना चाहता हूं कि क्या कारण है कि आपके मंत्रियों और आपकी सरकार पर हमेशा भ्रष्टाचार के आरोप लगते हैं।’

राजनाथ सिंह ने आगे कहा, ‘राज्य में जिस दिन BJP की सरकार बन जाएगी यहां से कटमनी, तोलाबाजी और गुंडागर्दी बंद हो जाएगी। केवल सड़क बनाने के लिए पीएम मोदी ने 25 हजार करोड़ रुपये दिए। वो पैसा कहां है और कितनी सड़कें बनीं? बंगाल तेजी से पीछे जा रहा है। इसके लिए ममता बनर्जी जिम्मेदार हैं।’

आपको बताते चलें,पश्चिम बंगाल का विधानसभा चनुाव कुल 8 चरणों में 294 सीटों पर हो रहा है। सभी राजनितीक दल तैयारियों में जुटे हैं। एक-एक करके सभी पार्टी जन सभा को आयोजित कर रहे हैं। वहीं, पहले चरण का चुनाव होली से ठीक दो दिन पहले यानी 27 मार्च को है। बहारहाल, ये तो चुनाव परिणाम के दिन ही पता चलेगा कि इस बार विधानसभा चुनाव में किसने बाजी मारी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *