सोनू सूद के नाम से हैदराबाद में शुरु हुई एम्बुलेंस सेवा

कोरोना वायरस के कारण पूरे देशभर में लॉकडाउन लगाया गया। लॉकडाउन के दौरान प्रवासी मजदूरों की समस्या बढ़-चढ़ कर सबके सामने आई। लेकिन उस दौरान लोगों के मसीहा बने अभीनेता सोनू सूद। एक्टर ने प्रवासी मजदूरों की दिल खोल कर मदद की। दरअसल, जब लॉकडाउन में असहाय मजदूर अपने घर नहीं जा पा रहे थे, तभी सोनू मसीहा बन कर लोगों के सामने आए। उन्होनें लाखों प्रवासीयों को उनके घर तक पहुँचाया था, जो दूसरे राज्यों में फंसे थे। इतना ही नहीं, लॉकडाउन से लेकर अब तक सोनू सूद ट्विटर के जरिए लोगों की मदद करते नजर आ रहे हैं।

कई प्रवासी मजदूरों ने तो सोनू सूद को अपना भगवान तक मान लिया। लेकिन अभीनेता ने लगातार लोगों से अपील की वे ऐसा नहीं समझे क्योंकि सोनू खुद भी एक आम इंसान है। भले ही सोनू सूद फिल्मों में वीलेन का किरदार निभाते हैं, लेकिन असल जिंदगी में उनका काम बिल्कुल एक सुपरहीरो जैसा है। तभी तो उनके दरियादिली से पूरे देशभर में उनको एक नई पहचान मिली है।

दरअसल,मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो अब सोनू सूद के नाम से हैदराबाद में एक एम्बुलेंस सेवा शुरू की गई है, जिसका नाम ‘सोनू सूद एम्बुलेंस सेवा’ रखा गया है। बताते चलें, हैदराबाद के रहने वाले शिवा नाम के एक शख्स ने एक एम्बुलेंस खरीदी और सोनू सूद के काम से वह इतने इंस्पायर हुए कि उन्होंने उस एम्बुलेंस का नाम एक्टर के नाम पर ही रख दिया।

वैसे, खुद शिवा भी लोगों की निस्वार्थ सेवा के लिए हैदराबाद में जाने जाते हैं। वह पेशे से एक तैराक हैं और अब तक उन्होंने पानी में डूबकर जान देने वाले 100 से ज्यादा लोगों की जिंदगी बचाई है। वहां के लोग शिवा की निस्वार्थ सेवा को देखते हुए उन्हें दान में पैसे देने लगे और उसी पैसों से शिवा ने एक एम्बुलेंस खरीदी और उसका नाम सोनू सूद के नाम पर रखा।

खुद सोनू सूद उस एम्बुलेंस का उद्घाटन करने वहां पहुंचे और उन्हें इस बात पर बहुत गर्व महसूस हुआ। एम्बुलेंस का उद्घाटन करने पहुंचे सोनू ने कहा कि “शिवा ने अब तक जो भी किया है, वह सराहनीय है और मुझे गर्व है कि मैं एम्बुलेंस का उद्घाटन करने आया हूं।” उन्होंने ये भी कहा कि शिवा जैसे लोगों की इस देश को बहुत जरूरत है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *