मां बनने के 2 साल बाद सानिया मिर्जा ने जीत से की अपनी वापसी, बेटे की मौजूदगी ने सानिया का हौसला बढ़ाय

भारतीय टेनिस स्टार प्लेयर सानिया मिर्जा ने 2 साल बाद टेनिस में अपनी वापसी की है। उन्होंने डब्ल्यूटीए सर्किट पर जीत के साथ वापसी करते हुए होबार्ट इंटरनेशनल टूर्नामेंट में उक्रेन की नादिया किचेनोक के साथ महिला डबल्स क्वार्टर फाइनल में प्रवेश कर लिया। दो साल बाद कोर्ट पर लौटी सानिया और उक्रेन की नाडिया किचेनोक ने जॉर्जिया की ओकसाना के और जापान की मियू कातो को सिर्फ एक घंटे, 41 मिनट तक चले मुकाबले में 2-6, 7-6, 10-3 से हरा दिया। अब उनका सामना अमेरिका की वानिया किंग और क्रिस्टीना मैकहेल से होना है। अमेरिकी जोड़ी ने चौथी वरीयता प्राप्त स्पेन की जार्जिना गार्सिया पेरेज और सारा सौरिबेज तोरमो को 6-2, 7-5 से मात दी।

बता दे कि सानिया और किचेनोक की शुरुआत अच्छी नहीं रही और उन्होंने दो बार डबल फॉल्ट किए। इसके साथ ही सात ब्रेक प्वाइंट में से एक भी नहीं भुना सकीं। इसकी वजह से दोनों ने पहला सेट गंवा दिया। दूसरे सेट में हालांकि दोनों ने अच्छी वापसी की। दोनों टीमों ने तीन-तीन ब्रेक प्वाइंट भुनाए। कड़े मुकाबले के बीच यह सेट जीतकर सानिया और किचेनोक ने मैच टाइब्रेकर तक खींचा। टाइब्रेकर में बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए आखिर दोनों ने इस मैच को जीत लिया। 

मालुम हो कि सानिया मिर्जा मां बनने की वजह से दो साल टेनिस से दूर थीं। सानिया ने पाकिस्तानी क्रिकेटर शोएब मलिक से निकाह किया था और 2018 में इजहान को जन्म दिया। उन्‍होंने अक्टूबर 2017 में आखिरी टूर्नामेंट खेला था। भारतीय टेनिस को नई बुलंदियों तक ले जाने वाली सानिया डबल्स में दुनिया की नंबर एक खिलाड़ी रह चुकी हैं और छह बार की ग्रैंडस्लैम विजेता हैं। आपको बता दे कि इस मैच के दौरान स्‍टेडियम में सानिया का बेटा और मां भी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *