सरकार करेगी निलंबन पर फैसला,, आइसोलेशन वार्ड में ड्यूटी लगाने पर डॉक्टरों से की धक्का-मुक्की।

पटना:आइसोलेशन वार्ड में ड्यूटी लगने पर रेडियोलॉजी विभाग के आठ जूनियर डॉक्टरों को कार्य से निलंबित कर दिया गया है। आठों डॉक्टरों ने आइसोलेशन वार्ड में ड्यूटी लगाए जाने पर शुक्रवार को जमकर उत्पात मचाया। मेडिसीन विभाग में सीनियर डॉक्टरों के साथ बदतमीजी की और ड्यूटी से इंकार कर दिया। इसके बाद पीएमसीएच में सीनियर डॉक्टरों ने अधीक्षक से इसकी शिकायत की तथा उनपर कार्रवाई की मांग की।जबतक कार्रवाई नहीं की जाती है, वे लोग ड्यूटी नहीं करेंगे। इसके बाद प्राचार्य और अधीक्षक ने संयुक्त आदेश निकालकर दोनों को निलंबित करने का आदेश जारी किया। निलंबन अवधि में भी इन आठों जूनियर डॉक्टरों की ड्यूटी आइसोलेशन वार्ड और फ्लू कॉर्नर पर ही लगाई गई है। निलंबन के बाद जूनियर डॉक्टरों को मिलनेवाली छात्रवृति पर रोक लग जाएगी। इसके अलावा पीजी कोर्स की अवधि में व्यवधान के कारण इनके परीक्षा देने पर भी रोक लग सकती है। प्राचार्य और अधीक्षक द्वारा निलंबन करने के आदेश की कॉपी स्वास्थ्य विभाग को भी भेज दिया है। निलंबित होने वाले डॉक्टरों में डॉ. जान, डॉ. कृष्ण कुमार ठाकुर, डॉ. रवि रंजन, डॉ. संदीप कुमार, डॉ. तरुण कुमार, डॉ. सुभाष कुमार, डॉ. पवन कुमार ओर डॉ. चंद्रभूषण सिंह शामिल हैं।
निलंबन का अदेश जारी होने के बाद आठों पीजी डॉक्टरों ने अधीक्षक चैंबर में पहुंचकर माफी मांगी। हालांकि अधीक्षक ने साफ कह दिया कि आदेश की कॉपी प्रधान सचिव को भेजा जा चुका है। अब वही निर्णय लेंगे। तबतक उन्होंने डॉक्टरों से अपनी ड्यूटी ढंग से करने की सलाह दी। कहा कार्य संतोषजनक होने पर बाद में इनके माफीनामा पर विचार करते हुए विभाग से निलंबन वापसी का आग्रह किया जाएगा। पीएमसीएच अधीक्षक ने कहा कि यह पीएमसीएच के इतिहास में सबसे बड़ी कार्रवाई है। इससे अन्य जूनियर डॉक्टरों में भी कड़ा संदेश जाएगा। इन डॉक्टरों से वहीं पर काम लिया जा रहा है जहां तैनाती किए जाने पर इन्होंने अमर्यादित व्यवहार किया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *