बिहार के बोले किसान ।

सुपौल: एक हफ्ते में तीसरी बार बारिश होने से फसलों को नुकसान, लोकल साइक्लोन हो रहा मजबूत, 50 किमी की रफ्तार से आ सकती है आंधी
गुरुवार को जिले के रतनपुर में बारिश के साथ हो रही अाेलावृष्टि।
गुरुवार को जिले के रतनपुर में बारिश के साथ हो रही अाेलावृष्टि।
एक हफ्ते में तीसरी बार बारिश होने से फसलों को नुकसान, लोकल साइक्लोन हो रहा मजबूत, 50 किमी की रफ्तार से आ सकती है आंधी।जिले के विभिन्न क्षेत्रों में बीते एक सप्ताह के दौरान तीसरी बार गुरूवार की दोपहर आंधी के साथ बारिश व ओलावृष्टि हुई। जिससे किसानों को फिर से व्यापक नुकसान हुआ है।
छातापुर प्रखंड क्षेत्र के विभिन्न पंचायतों में गुरुवार दोपहर आंधी, बारिश के साथ तेज ओलावृष्टि से रबी फसलों को व्यापक नुकसान हुआ है। साथ ही आम, लीची के फसलों को भी काफी क्षति पहुंची है। इससे कई कच्चे घरों को भी नुकसान हुआ है। इससे क्षेत्र के आम-लीची के अलावा गेहूं, मक्का, केला उत्पादक किसान काफी दुखी हैं। गुरुवार दोपहर करीब आधे घंटे तक तेज रफ्तार से चली हवा के साथ तेज ओलावृष्टि हुई।

किसान बोले-सरकार भी गेहूं की नहीं दे रही उचित कीमत, क्षति का आकलन करे विभाग
एक सप्ताह में तीसरी बार आई आधीं और बारिश ने किसानों की कमर तोड़ दी है। इससे उनका लाखों का नुकसान हुआ है। क्षेत्र के किसान विकास मिश्रा, सुरेंद्र राय, रामावतार यादव आदि ने बताया कि लोग पहले से कोराेना का कहर झेल रहे हैं और अब किसान प्रकृति की मार झेल रहे हैं। बारिश एवं ओलावृष्टि से मक्का एवं गेहूं के फसलों काे भारी नुकसान हुआ है। इधर सरकार भी किसानों को गेहूं का उचित मूल्य नहीं दे रही। उन्होंने कहा कि सरकार एवं विभागीय अधिकारियों अविलंब मुआयना करके किसानों को मुआवजा दें। वहीं तेज आंधी और बारिश के कारण क्षेत्र के विभिन्न जगहों पर विद्युत तार टूट गिरने की सूचना है। जिसको लेकर कई घंटों तक बिजली बाधित रही। इससे लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा। वहीं प्रखंड कृषि पदाधिकारी राज कुमार पासवान ने बताया की किसान सलाहकार को पीड़ित किसानों से संपर्क साधने को कहा गया है। जल्द ही नुकसान को आकलन किया जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *