बिहार के नालंदा में कोरोना पॉजिटिव ड्राक्टर मिला ।

नालंदा : जिले के बिहारशरीफ के कुछ मोहल्लों में स्क्रीनिंग कर रहे स्वास्थ्यकर्मियों ने सर्वे से इंकार कर दिया। वे अपनी जांच कराने की मांग कर रही थीं। कई मोहल्लों से स्थानीय लोगों ने भी ऐसी मांग करते हुए सर्वे टीम के सदस्यों से कहा कि पहले वे अपनी जांच कराएं। इसके बाद उनसे सीधी बात की जा सकती है। ऐसे में कुछ जगहों पर सही से स्क्रीनिंग नहीं हो सकी। सकुनत मोहल्ले के साथ-साथ खासगंज, शेखाना, आंशिक बॉलीपर, अंबेर में बैरिकेडिंग कर हर गतिविधि पर नजर रखी जा रही है। सोमवार को इन मोहल्लों में कर्फ्यू का नजारा दिखा। अब इन सील मोहल्लों पर ड्रोन से नजर रखी जा रही है।

बैरिकेडिंग के पास बीएमपी के जवानों की तैनाती भी सख्त कर दी गयी है। कोरोना पॉजीटिव डॉक्टर अपने परिवार के साथ सकुनत मोहल्ला में ही रहते हैं। इस कारण उसे भी सील कर दिया गया। बिहारशरीफ सदर प्रखंड की 180 आशाकर्मी स्क्रीनिंग में लगी हुई हैं। स्वभाविक तौर पर इन तीन दिनों में वे उनके संपर्क में आए लोगों से भी मिली होंगी। ऐसे में आम लोगों के साथ ही इन स्वास्थ्यकर्मियों की जांच की मांग एकदम सही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *