पुलिस इंस्पेक्टर लॉकडाउन में चोरी की गाड़ी से पहुंचा जगन्नाथ मंदिर।

ओडिसा:पुरी जाने के लिए दीपक कुमार ने पुलिस द्वारा जब्त चोरी की गई एसयूवी का इस्तेमाल किया।दिलचस्प बात ये है कि पुलिसकर्मी ने जगन्नाथ मंदिर जाने के लिए चोरी की गाड़ी पर लाल बत्ती लगा रखी थी।
बडचाना पुलिस स्टेशन में तैनात पुलिसकर्मी दीपक कुमार जेना
चोरी की एसयूवी से पुरी पहुंच गया ।मामला प्रकाश में आने पर उच्च अधिकारियों द्वारा उसे निलंबित कर दिया गया है।
ओडिशा के जाजपुर जिले के बडचाना से पुरी जाने को लेकर 150 किलोमीटर की दूरी तय करने के लिए पुलिसकर्मी ने चुराई गई एसयूवी का उपयोग किया. पुलिसकर्मी की पहचान बडचाना पुलिस स्टेशन में तैनात इंस्पेक्टर दीपक कुमार जेना के रूप में की गई है. दीपक कुमार को ओडिशा पुलिस के डीजीपी अभय ने गंभीर कदाचार के लिए निलंबित कर दिया है।
बताया जा रहा है कि पुरी जाने के लिए दीपक कुमार ने पुलिस द्वारा जब्त चोरी की गई एसयूवी का इस्तेमाल किया. दिलचस्प बात ये है कि पुलिसकर्मी ने जगन्नाथ मंदिर जाने के लिए चोरी की गाड़ी पर लाल बत्ती लगा रखी थी.

डीआईजी सेंट्रल रेंज आशीष सिंह ने बताया कि दीपक कुमार की छुट्टी नहीं थी और उसने जिला एसपी को पुरी की यात्रा के बारे में सूचित भी नहीं किया था. बताया जा रहा है कि दीपक कुमार श्रीमंदिर में पूजा अर्चना के लिए जा रहा था जबकि कोरोना लॉकडाउन की वजह से मंदिर अभी श्रद्धालुओं के लिए बंद है. इस मामले का तब खुलासा हुआ जब दीपक कुमार को श्री मंदिर में तैनात एक हवलदार ने रोका।

हालांकि, दीपक ने हवलदार को धमकी दी और दक्षिण गेट के माध्यम से अपने परिवार के सदस्यों के साथ श्रीमंदिर में जाने लगा।इसके बाद हवलदार ने सिंह द्वार थाने में शिकायत दर्ज कराई। एफआईआर पर कार्रवाई करते हुए स्थानीय पुलिस ने दीपक को परिवार के सदस्यों के साथ हिरासत में ले लिया।

इस बीच, एसयूवी के मालिक सुशांत दलाई ने दीपक जेना द्वारा इस्तेमाल किए जा रहे वाहन के बारे में मीडिया के माध्यम से पता चलने के बाद जपुर एसपी और कलेक्टर के समक्ष शिकायत दर्ज कराई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *