तीन बच्चों की मौत के बाद जागी बिहार सरकार।

पटना:कोरोना वायरस के संक्रमण के खतरे के बीच एक्यूट इंसेफलाइटिस सिंड्रोम (AES) यानि चमकी बुखार का भी कहर शुरू हो गया है. दो दिन में ही मुजफ्फरपुर के एसकेएमसीएच (SKMCH) में इलाज करवा रही अहियारपुर थाना क्षेत्र के रुसनपुर चक्की की निवासी दो जुड़वा बहनों की मौत हो गई. बीते साल 144 मौत हुई थी और इस वर्ष अभी नमी के वातावरण में ही इससे तीन की बच्चों की मौत हो चुकी है. जाहिर है सरकार इसको लेकर अलर्ट हो गई है. स्थिति गंभीर न हो और इसके रोकथाम के क्या उपाय किए जाएं इसको लेकर मंगलवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इसकी जानकारी ली और आवश्यक निर्देश दिए।
आला अधिकारियों संग मीटिंग भी की।पटना के एक अणे मार्ग स्थित नेक संवाद में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये स्वास्थ्य विभाग और संबंधित जिलों के डीएम के साथ एईएस और जेई की रोकथाम को लेकर किये जा रहे कार्यों की उच्चस्तरीय समीक्षा में सीएम नीतीश ने कहा कि जापानी इंसेफेलाइटिस (JE) का पूर्ण टीकाकरण कराएं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *